गुरुवार, 28 नवंबर 2013

जीवन की कुछ जरूरी आवश्यक बातें



) किसी को दु:ख न पहुंचाएं।
) घर का वातावरण सुखद बनाएं।
) जीवन में सत्य को प्रमुखता दें। एक झूठ छिपाने के लिए अधिक झूठ का सहारा लेना पड़ता है।
) भगवान के प्रति धन्यवादी रहें। भगवान पर पूरा विश्वास रखें।
) क्रोध से दूर रहें। क्रोध स्वास्थ्य का शत्रु है। स्वयं को और औरों को भी ऐसे वातावरण से दूर रखें।
) मधुर वचन बोलें।
) आलस्य को अपने जीवन में प्रवेश न करने दें। आलस्य से शरीर पर कुप्रभाव पड़ता है।
) कुछ आदर्शों और सिध्दांतों को जीवन में ढालने का अवश्य प्रयास करें।
) चिंता न करें। चिंतन से अपनी समस्याओं के समाधान ढूंढ़ने का प्रयास करें।
) बड़ों के प्रति आदर भाव रखें।
) अपने कर्तव्यों से मुख न मोड़ें।
) अपने आदर्श दूसरों पर जबरदस्ती न थोपें। खुद आदर्शवादी बन कर दिखाएं।
) अपनी सफलता पर इतरायें नहीं।
) अपनी असफलता से कुछ सीखें। हिम्मत न हारें।
) ज्ञान बांटने से बढ़ता है। आवश्यकता पड़ने पर ज्ञान बांटें।
) दूसरों से शिक्षा लेने के अवसर तलाशते रहें।
) दूसरों पर निर्भर रहना ठीक नहीं।
) दान देने से धन कभी घटता नहीं। इस प्रकार जरूरतमंदों पर कुछ धन अवश्य खर्च करें।
) दूसरों के सामने स्वयं को दीन-हीन महसूस न करें।
) परिश्रम सफलता की कुंजी है। परिश्रम करें। सफलता आपके कदम चूमेगी।
) किसी की निंदा न करें।
) बेवजह दूसरों की चापलूसी न करें।
) अच्छे नियम अपनाते रहें। नियमों का उल्लंघन न करें।
) आत्मविश्वासी बनें।
) दूसरों में प्यार बांटें।

You might also like :

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...